शहतूत के फायदे सेहत के लिए

प्राचीन काल से आयुर्वेद में शहतूत का प्रयोग औषधि के रूप ​में किया जाता रहा है। एक प्रकृतिक फल है जो खाने में बेहद स्वादिष्ट होता है। शहतूत क स्वाद खट्टा और मीठा होता है। इसका रंग लाल, नीला व काले रंग का होता है। ये फल हमारी सेहत के लिए शहतूत बहुत ही अधिक फायदेमंद होता है। शरीर में कई बीमारियों को ठीक करता है शहतूत।

#शहतूत के प्रकार
जी हां दोस्तों दो प्रकार के शहतूत होते हैं। पका शहतूत और कच्चा शहतूत।

शहतूत में विटामिन ए, फॉस्फोरस और पोटैशियम, आयरन​फाइबर, नियासिन, विटामिन के और ई की प्रचुर मात्रा
पाई जाती है।

यही नही दोस्तों खाने की कई रेसिपीज में स्वाद बढ़ाने के लिए शहतूत का प्रयोग किया जात है।
यह फल गर्मियों में उगता है। और गर्मियों में शहतूत खाने से लू नहीं  लगती है। यह फल शरीर में पानी की मात्रा को बढ़ाता है।

शहतूत के चमतकारी गुण और फायदे (Morus alba health benefits in hindi)

चेहरे को बनाए सुंदर

त्वचा को सुंदर और जवां बनाता है शहतूत चेहरे से जुड़ी हुई समस्याएं जो ज्यादातर गर्मियों में होती हैं उनसे आपको बचाता है। अब आपको बताते हैं कैसे करें शहतूत का प्रयोग त्वचा के लिए :
आप शहतूत की पत्तियों को तोड़कर उसे गर्म पानी में रख दें और जब पानी आधा रह जाए तब इसे अपने नहाने वाले पानी में मिलाकर इससे स्नान करें। एैसा यदि आप नियमित करते हैं तो इससे आपका चेहर नरम और कोमल बनेगा। शहतूत की पत्तियां बहुत ही लाभदायक होती है जो त्वचा से काले धब्बों को दूर करती हैं।

 

 

चेहरे से झुर्रियों को हटाती है

शहतूत में कई गुण होते हैं। जो त्वचा की गहराईयों में जाकर काम करते हैं। बढ़ती उम्र में झुर्रियां आना स्वभाविक बात है ऐसे में यदि आप केमिकल युक्त चीजों का इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपके चेहरे पर गलत प्रभाव पड़ सकता है। ऐसे में हमारी त्व्चा को नुकसान हो सकता है। यदि आप नियमित शहतूत का रस पीते हैं तो कुछ ही दिनों में आपके चेहरे से झुर्रियां हट जाएगी। यही नहीं आपको पता नहीं चलेगा कि चेहरे से कब झुर्रियां खत्म हो गई हैं।

खून में आरबीसी कोशिकाओं को बढ़ाता है शहतूत हमारे शरीर में खून की कमी को दूर तो करता ही है साथ ही साथ यह हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को निमार्ण करता है।

 

ब्लडप्रेशर की समस्या में शहतूत 

जी हां शहतूत में मौजूद गुण हमारे शरीर में ब्ल्ड प्रेशर को सामान्य बनता है। नियमित शहतूत फल खाने से ब्लडप्रेशर की समस्या नहीं होती है।

 

बचाए फ्री—रेडिकल्स से

शहतूत शरीर में फ्री रेडिकल्स से हमें बचाता है। यह फल एंटीआॅक्सीडेंट होता है जो शरीर में कई बीमारियों
से लड़ता है।

बढ़ाता है पाचन शक्ति को शहतूत
पेट की कई बीमारियों से बचाता है शहतूत। हमारी पाचन तंत्र को शक्ति मिलती है इस फल को खाने से।
यह नहीं शहतूत खाने से पेट की ऐंठन, पेट की सूजन, कब्ज और अन्य समस्याएं ठीक हो जाती हैं।
कोलेस्ट्रॉल की समस्या
दिल की बीमारी व हार्ट अटैक जैसी समस्या को दूर करता है शहतूत। नियमित रूप से शहतूत खाने से इंसान को कभी भी दिल के रोग नहीं लगते हैं। और हमारा दिल सेहतमंद रहता है।

 
हड्डियों की मजबूती के लिए शहतूत
जिन लोगों की हड्डियां कमजोर हैं या फिर हड्डी पर उतकों का निमार्ण ना हो रहा हो तो आप शहतूत का सेवन करें। क्योंकि शहतूत में मैग्नीनिशयम, आयरन, विटामिन के और कैल्श्यिम होता है जो हमारी हड्डियों को ताकत देता है।

 

शहतूत खाने के अन्य फायदे

  • सर्दी व जुकाम में हमे राहत देता है शहतूत
  • पेशाब से जुड़ी हुई समस्याओं को ठीक करते हैं शहतूत में मैजूद तत्व।
  • आंखों की रोशनी तेज होती है शहतूत खाने से।
    लीवर की बीमारी या लीवर से जुड़ी हुई किसी भी प्रकार की समस्या हो ता आप शहतूत का सेवन करें। आपको इसका फायदा जरूर मिलेगा।

किडनी की समस्या में
किडनी से जुड़ी हुई कोई किसी भी तरह की समस्या को ठीक करता है शहतूत।

 

खुजली की समस्या में राहत
यदि आपके शरीर में खुजली की समस्या अधिक हो रही हो तो आप शहतूत की पत्तियों को लें और इसे पीसकर खुजली वाली जगह पर लगाएं आपको इससे जरूर फायदा मिलेगा।

 

गले से जुड़ी समस्या
गले से जुडी समस्या जैस खराश आदि लगना भी शहतूत से दूर होती है। आप शहतूत की पत्तियों को पानी में उबालें और इससे गरारे करें।

 
इम्यून सिस्टम को बनाता है मजबूत

यदि हमारा इम्यून तंत्र मजबूत रहेगा तभी तो ​हम कई रोगों से बचे रहेगें। हमारी सेहत के लिए हमारा इम्यून तंत्र का मजबूत होना बहुत जरूरी है। ऐसे में यदि आप शहतूत खाते हैं तो इससे इम्यून सिस्टम मजबूत बनेगा और हम स्वस्थ रहेगें।

Loading...